For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

shekhar jha`
  • Male
  • raipur
  • India
Share
  • Feature Blog Posts
  • Discussions
  • Events
  • Groups (4)
  • Photos (19)
  • Photo Albums
  • Videos

Shekhar jha`'s Friends

  • parul 'pankhuri'
  • Ritu Kushwah
  • Vasundhara pandey
  • annapurna bajpai
  • कल्पना रामानी
  • Savitri Rathore
  • Vindu Babu
  • Aarti Sharma
  • Meena Pathak
  • Sarita Bhatia
  • Dr.Prachi Singh
  • Bishwajit yadav
  • GANGESH KUMAR DWIVEDI
  • AJAY MISHRA
  • mahendra Anuragi
 

shekhar jha Cancel

Latest Activity

Meera Trivedi and shekhar jha` are now friends
Mar 4, 2020

Profile Information

Gender
Male
City State
Madhubani,,patna, raipur(c.g)
Native Place
madhubani
Profession
media
About me
dusaro ki madd karna

shekhar jha`'s Photos

  • Add Photos
  • View All

Comment Wall (7 comments)

You need to be a member of Open Books Online to add comments!

Join Open Books Online

At 10:56pm on April 26, 2014, Vindu Babu said…

आपका हार्दिक स्वागत करती हूँ आदरणीय शेखर ज।

At 10:14pm on March 29, 2014, कल्पना रामानी said…

आपका हार्दिक स्वागत आदरणीय शेखर जी

At 8:53pm on March 29, 2014, Mukesh Verma "Chiragh" said…

Sekhar jee 

Namaste..

kya aap jaante hain mujhe..

regards

At 12:29pm on January 16, 2011, jagdishtapish said…
shekhar ji aabhar aapka
At 3:04pm on December 17, 2010,
मुख्य प्रबंधक
Er. Ganesh Jee "Bagi"
said…
At 9:38pm on December 12, 2010, Admin said…

At 12:01pm on December 11, 2010, PREETAM TIWARY(PREET) said…

 
 
 

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Blogs

Latest Activity

Krish mishra 'jaan' gorakhpuri replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"तेरी वो यादें दिलो जां से मिटाई न गईकोशिशें कर ली बहुत हमने भुलाई न गई कैद तस्वीर तेरी ऐसी हुई…"
16 minutes ago
Richa Yadav replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"आदरणीय राजेश कुमारी जी नमस्कार बहुत खूबसूरत ग़ज़ल हुई बधाई स्वीकार कीजिये।"
18 minutes ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"वाह बहुत अच्छी ग़ज़ल कही है नीलेश बरई साहब मुबारकबाद कुबूल करें। अंतिम शेर में बोझ को गई कहना ठीक…"
22 minutes ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"ज़नाब आज़िम साहब अच्छी ग़ज़ल कही है मुबारकबाद छटे शेर के सानी की बहर गड़बड़ हो गई है आख़िरी शेर के सानी को…"
27 minutes ago
Krish mishra 'jaan' gorakhpuri posted a blog post

ग़ज़ल: खिड़की पे माहताब बैठा है।

2122 1212 22आँख में भरके आब बैठा है। खिड़की पे माहताब बैठा है।**रातभर वाट्सऐप पे है लड़ा नोजपिन पे…See More
31 minutes ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"आद.चेतन जी आपने अच्छी कोशिश की है मगर कई मिसरे बहर से खारिज़ हैं तीसरे शेर का ऊला, चौथे शेर का…"
35 minutes ago
Aazi Tamaam replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"सादर प्रणाम आदरणीय रचना जी सहृदय धन्यवाद ग़ज़ल पर हौसला अफ़ज़ाई के लिये"
41 minutes ago

सदस्य कार्यकारिणी
rajesh kumari replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"हसरत-ए-दीद कभी उनसे जताई न गई;आज तक हम से भी चिलमन ये हटाई न गई। वो समंदर में चलाएंगे सफीने…"
43 minutes ago
Aazi Tamaam commented on Aazi Tamaam's blog post ग़ज़ल ~ " है स्याही सुर्ख़ फिर अपनी क़लम है ख़ूँ-चकाँ अपना "
"सादर प्रणाम गुरु जी गौर फरमायियेगा चले जाता है अक्सर डूबकर मस्ती में कुछ ऐसे नहीं रोके रुका है फिर…"
43 minutes ago
Richa Yadav replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"आदरणीय चेतन जी नमस्कार खूब ग़ज़ल हुई बधाई स्वीकार कीजिए।"
1 hour ago
Richa Yadav replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"आदरणीय आज़ी जी नमस्कार खूब ग़ज़ल हुई बढ़ी स्वीकार कीजिए।"
1 hour ago
Richa Yadav replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-128
"आदरणीय नीलेश जी नमस्कार खूब ग़ज़ल हुई। बधाई स्वीकार कीजिए।"
1 hour ago

© 2021   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service