For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

asha pandey ojha
  • Female
  • rajasthan
  • India
Share

Asha pandey ojha's Friends

  • डिम्पल गौड़
  • Alok Mittal
  • CHANDRA SHEKHAR PANDEY
  • Dr Babban Jee
  • Sumit Naithani
  • Pragya Srivastava
  • Dr. Swaran J. Omcawr
  • ASHISH KUMAAR TRIVEDI
  • डॉ नूतन डिमरी गैरोला
  • Savitri Rathore
  • बृजेश नीरज
  • वेदिका
  • vijay nikore
  • आशीष नैथानी 'सलिल'
  • Gorkhe Sailo
 

asha pandey ojha's Page

Profile Information

City State
jodhpur
Native Place
koi nahee
Profession
advocate,writer social worker
About me
ati sadharan insaan , insaniyat ko pooja mantee hun

asha pandey ojha's Photos

  • Add Photos
  • View All

Asha pandey ojha's Blog

थी तो स्त्री न ?

कई रोज से खाली पेट थी

संभाल न सकी भूख

पसीज कर

दया करूणा ने

दो रोटी दस रूपये में

इतना भरा उसका पेट

फिर नौ माह

फूला रहा 



वो कुत्ता बिल्ली नहीं थी

बिना किसी एवज

भूख मिटा दी जाती

विक्षिप्त थी तो क्या

थी तो स्त्री…

Continue

Posted on January 13, 2015 at 8:30pm — 30 Comments

त्रिसुगंधि (गीत ग़ज़ल व कविताओं का संकलन) का लोकापर्ण

काठमांडू नेपाल में होटल शंकर में अंतर्राष्ट्रीय साहित्यकला मंच मुरादाबाद द्वारा आयोजित दिनांक 8 जून से 11 जून तक हुई अंतराष्ट्रीय हिंदी संगोष्ठी में द्वारा 134 लेखकों को लेकर संपादित की गई पुस्तक त्रिसुगंधि  गीत ग़ज़ल व कविताओं का संकलन 296 पृष्ठों की इस पुस्तक का लोकापर्ण करते अतिथिगण , कार्यक्रम के अध्यक्षडॉ हरिराज  सिंह  नूर  पूर्व कुलपति इ .वी .वी, मुख्य अतिथि थे डॉ  आर के मित्तल कुलपति टी .एम .यू…

Continue

Posted on June 16, 2013 at 8:30pm — 18 Comments

ओ बी ओ के समस्त साहित्यकारों से विनम्र निवेदन

साथियों, मैं एक शोध पत्र तैयार कर रही हूँ जो आगामी अखिल भारतीय साहित्यकला मंच द्वारा काठमाण्डु (नैपाल) में आयोजित (अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी समारोह - 8 जून 2013 से 11 जून, 2013 तक) में पढ़ा जायेगा, इस निमित ओ बी ओ के समस्त साहित्यकारों से विनम्र निवेदन के साथ कहना है कि यदि आप सभी के माध्यम से मुझे विदेशों में रहने वाले भारतीय साहित्यकारों की  सूची, उनके द्वारा सृजित साहित्य, व उनके द्वारा सम्पादित पत्र पत्रिकाओं की सूची उपलब्ध हो सकती हो तो कृपया उपलब्ध करायें, यदि आप…

Continue

Posted on March 13, 2013 at 10:30pm — 4 Comments

राजस्थानी भाषा में म्हारा कीं हाइकुड़ा

राजस्थानी भाषा में म्हारा कीं हाइकुड़ा 

मेल-माळीया 
अन धन रो  ढेर 
जीव जूझे…
Continue

Posted on March 5, 2013 at 1:30pm — 8 Comments

asha pandey ojha's Videos

  • Add Videos
  • View All

Comment Wall (43 comments)

You need to be a member of Open Books Online to add comments!

Join Open Books Online

At 12:26am on October 25, 2015,
सदस्य कार्यकारिणी
मिथिलेश वामनकर
said…

ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार की ओर से आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें...

At 11:08am on October 25, 2013, जितेन्द्र पस्टारिया said…

 " जन्मदिन की हार्दिक बधाई व् शुभकामनायें ", आदरणीया आशा जी

At 10:51pm on March 9, 2013, वेदिका said…

  बहुत सुंदर सब कुछ शब्द भी, आवाज़ भी, सुर भी , शब्द कम पड़  गये है मेरे पास। निशब्द हूँ आपकी इस रचना के सम्मुख ..
आदरणीया asha pandey ojha जी!

ना मिले उस दर्द से निजात मौला
हो जिसमे उसकी याद साथ मौला

रंजो गम जहाँ के हंस कर सह जाऊ
जो हो मेरे सर पे तेरा हाथ मौला

पाकर जरा सी ख़ुशी मगरूर हो जाये 
आदमी की इतनी है औकात मौला

या तो सिर्फ हमको इंसान बना
या तो फिर माथे पे लिख दे जात मौला 

तेरा ही रचाया हुआ एक खेल है दुनिया
तेरा बन्दा चला तुझको देने मात मौला 

शुभकामनाये आदरणीया asha pandey ojha जी!

सादर वेदिका 

At 10:51pm on March 6, 2013, mrs manjari pandey said…

आदरणीया  आशा पाण्डेय जी  " त्रिसुगंधि " के लिए रचनाएँ आमंत्रित करने का अत्यंत नेक कार्य अपने किया है। बहुत बहुत शुभकामनायें।हम जैसे नए लिखने वालों के लिए ऊर्जा का संचार किया है आपने। बहुत बहुत साधुवाद .

At 7:45pm on March 6, 2013, Ajitsinh Jagirdar said…

नमस्कार ....फेसबुक पे तो आप से तीन साल से जुडा हूँ, ....ओ.बी.ओ. में पहली बार. ओ.बी.ओ.से कई सालों से जुडा हूँ पर ज्यादा वक्त नहीं दे पाता. 

At 2:24pm on March 6, 2013, vijay nikore said…

बधाई के लिए आपका अतिशय धन्यवाद।

विजय निकोर

At 12:51pm on October 25, 2012, Ranveer Pratap Singh said…

wish you a very happy birthday

At 10:06am on October 25, 2012,
मुख्य प्रबंधक
Er. Ganesh Jee "Bagi"
said…

At 11:15am on February 12, 2011, अशोक पुनमिया said…
aashaa ji aapkaa shukriyaa. der se zavaab ke liye kshamaa.
At 4:06pm on December 8, 2010, Abhinav Arun said…
आशा जी आपका कमेन्ट पढकर खुशी हुई |काफी दिनों से आप की प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा थी |ओ.बी.ओ.एक सार्थक मंच है यहाँ लिख् पढकर संतोष होता है | हम सब पढ़े गढ़ें यही कामना है |
 
 
 

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Blogs

Latest Activity

लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' commented on Gurpreet Singh jammu's blog post ग़ज़ल - गुरप्रीत सिंह जम्मू
"आ. भाई गुरप्रीत जी, अच्छी गजल हुई है । हार्दिक बधाई। "
10 hours ago
Gurpreet Singh jammu commented on Gurpreet Singh jammu's blog post ग़ज़ल - गुरप्रीत सिंह जम्मू
"शुक्रिया आदरणीय सुशील सरना जी"
11 hours ago
Gurpreet Singh jammu commented on Gurpreet Singh jammu's blog post ग़ज़ल - गुरप्रीत सिंह जम्मू
" शुक्रिया आदरणीय अमीरुद्दीन अमीर जी "
11 hours ago
TEJ VEER SINGH commented on लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर''s blog post हमें लगता है हर मन में अगन जलने लगी है अब
"हार्दिक बधाई आदरणीय मुसाफ़िर जी। लाजवाब ग़ज़ल। "
16 hours ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' posted a blog post

हमें लगता है हर मन में अगन जलने लगी है अब

१२२२/१२२२/१२२२/१२२२ बजेगा भोर का इक दिन गजर आहिस्ता आहिस्ता  सियासत ये भी बदलेगी मगर आहिस्ता…See More
yesterday
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' commented on Sushil Sarna's blog post दोहा त्रयी. . . . . .
"आ. भाई सुशील जी, सादर अभिवादन। बेहतरीन दोहे हुए हैं ।हार्दिक बधाई।"
yesterday
अमीरुद्दीन 'अमीर' commented on Sushil Sarna's blog post दोहा त्रयी. . . . . .
"आदरणीय सुशील सरना जी आदाब, बहुत ख़ूब दोहा त्रयी हुई है। विशेष कर प्रथम एवं तृतीय दोहा शानदार हैं।…"
yesterday
vijay nikore posted a blog post

धक्का

निर्णय तुम्हारा निर्मलतुम जाना ...भले जानापर जब भी जानाअकस्मातपहेली बन कर न जानाकुछ कहकरबता कर…See More
yesterday

प्रधान संपादक
योगराज प्रभाकर replied to Admin's discussion खुशियाँ और गम, ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार के संग...
"आ० सौरभ भाई जी, जन्म दिवस की अशेष शुभकामनाएँ स्वीकार करें। आप यशस्वी हों शतायु हों।.जीवेत शरद: शतम्…"
yesterday
Sushil Sarna posted a blog post

दोहा त्रयी. . . . . .

दोहा त्रयी. . . . . . ह्रदय सरोवर में भरा, इच्छाओं का नीर ।जितना इसमें डूबते, उतनी बढ़ती पीर…See More
Tuesday
अमीरुद्दीन 'अमीर' posted a blog post

ग़ज़ल (जो भुला चुके हैं मुझको मेरी ज़िन्दगी बदल के)

1121 -  2122 - 1121 -  2122 जो भुला चुके हैं मुझको मेरी ज़िन्दगी बदल के वो रगों में दौड़ते हैं…See More
Tuesday
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' commented on Sushil Sarna's blog post तेरे मेरे दोहे ......
"आ. भाई सौरभ जी, आपकी बात से पूर्णतः सहमत हूँ ।"
Monday

© 2021   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service