For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

kavita kya hai ?
do sabdon ke beech ka maun kavita hai ....ajyenji
(pl write yr definition of poem )

Views: 453

Reply to This

Replies to This Discussion

sabdo ki anugunj mein kavita hai .....
sabdo ke bhitr chipi raag ko sangeet jo de wo kavita hai ...
sabhi kaviyon se,pathkon se anunay nivedan hai ki ve kavita ko peribhasit kere taki hum jaan sakekavita kya hai?
आदरणीय राकेश नारायण जी, सबसे पहले तो मै आपके Open Books Online के फोरम पर पहला परिचर्चा प्रारम्भ करने हेतु धन्यबाद देता हू ,
जब अनुभव कि कढाई मे, मन मे उपजे विचारो को डाल कर, ह्रदय की कलछी से बराबर चलाते हुए , समय कि आग पर, शब्दो के छौका के साथ जो व्यंज्जन बनता है मेरे ख्याल से उसी का नाम कविता है ।
कविता सबदो के माध्यम से ,अनुभव को चित्रित करने का एक सलीका है ..तथ्यों को भोगने के बाद उपजी विसंगति से प्रेरित हुए करुणा या गुस्सा है या ...
मन कि व्यथा को अभिव्क्त करने का एक माध्यम है, लेखक के अन्दर के गुब्बार को बाहर निकालने का एक ससक्त जरिया है या...........
कविता एन सबसे तटस्थ रह कर केवल एक ठंडी चाव है तपते मरुस्थल की उष्मा को सहने की ताक़त देनेवाली ...शीतल पनाह है ....
शान्तिप्रिय लोगो का,
हथियार है कविता,
करे गम्भीर असर ऐसा,
वार है कविता,
काट दे तलवार से भी गहरा घाव,
वो धार है कविता,
जो दिल मे आहिस्ते से उतर जाये,
वो प्यार है कविता,
घावों को जो सहला दे
दर्द को जो सहने की ताक़त दे
सबदो को जो गूँज दे
म्न को जो सुकून दे
कहे कुछ नही
इशारा भर केरे
ततषट रह कर जो
राग ऐसी सुनाए
की मंतरा मुग्ध
होकेर फिर पाठक
को ऐसी रह दे
जिस पेर चल कर
वो उसे पा जाए
जिसे ढूंढता ढूंढता
वो कवि हो जाए

RSS

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Blogs

Latest Activity

Sheikh Shahzad Usmani replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"बहुत-बहुत शुक्रिया आदरणीया बबीता गुप्ता जी।"
4 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"बहुत बढ़िया रचना। बहुत-बहुत बधाई आदरणीय मनन सरजी।"
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"उम्दा रचना। बहुत-बहुत बधाई, आदरणीय शेख सरजी। "
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
" भावपूर्ण संवाद शैली में सुन्दर रचना,बहुत-बहुत बधाई आदरणीया प्रतिभा जी।"
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"बहुत बढ़िया रचना। बहुत-बहुत बधाई, आदरणीया अर्चना जी। "
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"बेहतरीन रचना। बहुत-बहुत बधाई, आदरणीय चेतन सरजी। "
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"प्रेरक रचना।बहुत-बहुत बधाई, आदरणीय अतुल सरजी।"
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"सही कहा,अब वो अबला नही, सक्षम हैं । बहुत-बहुत धन्यवाद। "
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"बहुत-बहुत धन्यवाद। "
5 hours ago
babitagupta replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"बहुत-बहुत धन्यवाद। "
5 hours ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"आ. अर्चना जी, अभिवादन । अच्छी रचना हुई है । हार्दिक बधाई ।"
6 hours ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-71
"आ. प्रतिभा बहन , सादर अभिवादन । अच्छी कथा हुई है । हार्दिक बधाई । "
6 hours ago

© 2021   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service