For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

रविकर's Discussions (650)

Discussions Replied To (428) Replies Latest Activity

" सीतापुर को भेजता, रविकर फैजाबाद । नमस्कार स्वीकार हो, देता सौ सौ दाद ।।"

रविकर replied May 20, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"अभिलाषा पूरी करे, कह रविकर आमीन । रास-रंग रमते रहें , रब-कौतुकी प्रवीन ।।"

रविकर replied May 20, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"महोदय यदि संभव हो अंतिम दोहे को संशोधित करें प्रस्तुत दोहे के अनुसार हमरा-हुलके बा…"

रविकर replied May 20, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"तीसरी प्रस्तुति दोहे कठपुतली बन नाचते, मीरा मोहन-मोर | दस जन, पथ पर डोलते, करके ढीली…"

रविकर replied May 20, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"शंका-लंका फूंक के, जलधि बुझाई पूंछ | आज तलक भटका किया, ताल-तलैया छूँछ | ताल-तलैया छ…"

रविकर replied May 19, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"बहुत बहुत आभार जी,  मिला परम आनंद | कुंडलियों में छा गए,  तरह तरह के छंद ||"

रविकर replied May 19, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"मेरी दूसरी प्रस्तुति कुंडली नहीं बिलौका लौकता, ना ही कुक्कुर भौंक | खिड़की भी तो बं…"

रविकर replied May 19, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"कुंडली बालक सोया था पड़ा,  माँ-बापू से खीज | मेले में घूमा-फिरा, मिली नहीं पर चीज …"

रविकर replied May 19, 2012 to ‘चित्र से काव्य तक प्रतियोगिता अंक -१४' (Now closed with 694 Replies)

694 May 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

RSS

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"आ. भाई शेख शहजाद जी, अभिवादन। अच्छी लघुकथा हुई है। हार्दिक बधाई।"
2 hours ago
Mahendra Kumar replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"तब इसे थोड़ी दूसरी तरह अथवा अधिक स्पष्टता से कहें क्योंकि सफ़ेद चीज़ों में सिर्फ़ ड्रग्स ही नहीं आते…"
3 hours ago
Sheikh Shahzad Usmani replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"आदाब। बहुत-बहुत धन्यवाद उपस्थिति और प्रतिक्रिया हेतु।  सफ़ेद चीज़' विभिन्न सांचों/आकारों…"
3 hours ago
Sheikh Shahzad Usmani replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"रचना पटल पर आप दोनों की उपस्थिति व प्रोत्साहन हेतु शुक्रिया आदरणीय तेजवीर सिंह जी और आदरणीया…"
3 hours ago
TEJ VEER SINGH replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"हार्दिक बधाई आदरणीय शेख़ शहज़ाद जी।"
3 hours ago
TEJ VEER SINGH replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"हार्दिक आभार आदरणीय प्रतिभा जी।"
3 hours ago
TEJ VEER SINGH replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"हार्दिक आभार आदरणीय महेन्द्र कुमार जी।"
3 hours ago
pratibha pande replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"समाज मे पनप रही असुरक्षा की भावना के चलते सामान्य मानवीय भावनाएँ भी शक के दायरे में आ जाती हैं कभी…"
3 hours ago
pratibha pande replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"हार्दिक बधाई इस लघुकथा के लिए आदरणीय तेजवीर जी।विस्तार को लेकर लघुकथाकार मित्रों ने जो कहा है मैं…"
4 hours ago
Mahendra Kumar replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"//"पार्क में‌ 'सफ़ेद‌ चीज़' किसी से नहीं लेना चाहिए। पता नहीं…"
5 hours ago
Mahendra Kumar replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"अच्छी लघुकथा है आदरणीय तेजवीर सिंह जी। अनावश्यक विस्तार के सम्बन्ध में आ. शेख़ शहज़ाद उस्मानी जी से…"
5 hours ago
Sheikh Shahzad Usmani replied to Admin's discussion "ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-107 (विषय: इंसानियत)
"टुकड़े (लघुकथा): पार्क में लकवा पीड़ित पत्नी के साथ वह शिक्षक एक बैंच की तरफ़ पहुंचा ही था कि उसने…"
5 hours ago

© 2024   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service