For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

Ashok Kumar Raktale's Discussions (5,977)

Discussions Replied To (2503) Replies Latest Activity

"रेखा जी        सादर, ललित छंद पर सुन्दर प्रयास. जानकारी के आभाव में त्रुटियाँ हैं जै…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"विर्क जी              सादर, सत्य को प्रदर्शित करती सुन्दर कुंडलिया के लिए बधाई स्वीक…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"आदरणीय संजय जी                  सादर, दोहावली आपको भली लगी जानकार मुझे संबल मिला. धन…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"आदरणीय अलबेला जी                        उत्साहवर्धन का शुक्रिया."

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"आदरणीय अविनाश जी                     सादर, आपको दोहे सटीक लगे यह मेरे लिए प्रसन्नता…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"आदरणीय अम्बरीश जी                     सादर, बहुत सुन्दर सुधार किया है आपने. मात्राओं…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"दोहे का पंच.(रचना द्वितीय)   शोला बन बहता लहू, रही मुट्ठियाँ भींच/ कैसी कौमे बो रही,…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"भीतर भीतर क़ैद,  लपट नहिं बाहर उट्ठी केवल धुआं उगल, रही है मेरी मुट्ठी वाह! अलबेला सा…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"बंद करो ये बाँट ,विषमय मौत की हाला अच्छा ना ये भ्रात ,कोयले सा मुख काला  बहुत सुन्दर…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

"प्राची जी             सादर, यदि मंच पर मात्रा कि गणना के लिए किसी विस्तृत आलेख कि बा…"

Ashok Kumar Raktale replied Aug 20, 2012 to 'चित्र से काव्य तक' प्रतियोगिता अंक -१७

1027 Aug 21, 2012
Reply by Er. Ambarish Srivastava

RSS

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

dandpani nahak replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"दूसरा शैर इस तरह पढ़ा जाय       "जन्नत अगर कहीं है यहीं है यहीं तो…"
3 minutes ago
Samar kabeer replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"क्या तब्दीली की है बताइये?"
12 minutes ago
dandpani nahak replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"आदरणीय संजय शुक्ला जी सादर अभिवादन!  बहुत बहुत शुक्रिया आपका आपने वक़्त निकाला ग़ज़ल तक आये और…"
12 minutes ago
Samar kabeer replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"जी, अभी बात नहीं बनी ।"
13 minutes ago
dandpani nahak replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"मेरा नाम दण्डपाणि नाहक है  आदरणीय "
13 minutes ago
dandpani nahak replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"आदरणीय चेतन प्रकाश जी नमस्कार! बहुत-बहुत शुक्रिया आपका आपने समय निकाला ग़ज़ल तक आये और मेरी हौसला…"
14 minutes ago
Sanjay Shukla replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"आदारणीय समर कबीर सर, क्या 4 को यूँ कहा जा सकता है ?....जागे तो गर्द-ए-पाँव ने हैरान कर दिया हम नींद…"
19 minutes ago
Chetan Prakash replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"आदाब, जनाब तस्दीक अहमद  खान साहब, खूबसूरत ग़ज़ल हुई है ।बधाई आप को  ! परन्तु  छठे…"
22 minutes ago
Tasdiq Ahmed Khan replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"bahut bahut shukriya Aapka "
1 hour ago

सदस्य टीम प्रबंधन
Saurabh Pandey replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"    आपके तथ्यों के प्रति सादर भाव रखते हुए इतना ही जानना चाहूँगा, हिन्दी भाषा का व्याकरण…"
1 hour ago
Tasdiq Ahmed Khan replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"जनाब भाई लक्ष्मण जी, ग़ज़ल का सफल प्रयास किया है आपने जिसके लिए बहुत बहुत बधाई l आपके शेर 2 में…"
1 hour ago
Anil Kumar Singh replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-135
"प्रिय संजय जी आपको ग़ज़ल अच्छी लगी, मेरा उत्साह बढ़ा .आभार "
2 hours ago

© 2021   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service